दोनों हाथ और एक पैर गवांने वाले शिवम ने गुजरात बोर्ड कक्षा 12वीं के साइंस स्ट्रीम में प्राप्त किए 92% मार्क्स.

Gujarat Board 12th Result 2020, Shivam Solanki: शिवम सोलंकी ने गुजरात बोर्ड 12वीं कक्षा की परीक्षा में सफलता पाकर कामयाबी की ऐसी इबारत लिख दी जो देश- दुनिया के हजारों- लाखों छात्रों के लिए गहरी प्रेरणा बनेगी. उनकी कामयाबी इन पंक्तियों का एहसास कराती है. ठीक ही कहा गया है.

…..मन का विश्वास रगों में साहस भरता है

चढ़कर गिरना, गिरकर चढ़ना अखरता है

आखिर उनकी मेहनत बेकार नहीं होती

कोशिस करने वालों की कभी हार नहीं होती……सोहन लाल द्विवेदी

कविता की ये उपरोक्त पंक्तियाँ गुजरात राज्य के वड़ोदरा के बरानपुरा के रहने वाले शिवम् सोलंकी के ऊपर एकदम सटीक बैठती हैं. जिन्होंने मात्र 12 वर्ष की आयु में अपने दोनों हाथ एवं एक पैर गवां देने के बावजूद भी पढ़ाई के प्रति उनका जज्बा कम नहीं हुआ और इसी जज्बे के बदौलत उन्होंनें गुजरात बोर्ड की 12वीं परीक्षा में विज्ञान वर्ग में 92% अंक हासिल करके एक नयी मिशाल कायम की है.

शिवम सोलंकी की डॉक्टर बन सेवा करने का है सपना

शिवम सोलंकी ने परीक्षा में कलाई के सहारे लिखकर परीक्षा दी थी. इसके पहले भी उन्होंने 10वीं की परीक्षा में भी शानदार 81% अंक हासिल किया था. गुजरात के इस छात्र ने एक समाचार एजेंसी से बातचीत करते हुए बताया कि “मैं डॉक्टर बनना चाहता हूँ और डॉक्टर बनकर लोगों की सेवा करना चाहता हूँ और अगर डॉक्टर नहीं बना, तो इससे सम्बंधित दूसरी सेवाओं में जाकर समाज की सेवा करना चाहता हूँ.”

गुजरात बोर्ड 12वीं रिजल्ट: शिवम् सोलंकी के साथ ऐसे हुआ हादसा

हादसा ऐसे हुआ- शिवम् सोलंकी के साथ मात्र 12 वर्ष की आयु में एक हादसा तब हुआ था कि जब वे छत पर पतंग उड़ा रहे थे. पतंग उड़ाने के दौरान ही वे अचानक बिजली के तार पर जाकर गिर पड़े थे. इस घटना में उनके दोनों हाथ एवं एक पैर बुरी तरह से झुलस गए थे. इस दुर्घटना में उनको अपने दोनों हाथ एवं एक पैर गवांने पड़े थे. परन्तु इतनी बड़ी दुर्घटना के पश्चात भी उन्होंने कभी हार नहीं मानी.

गुजरात बोर्ड 12वीं रिजल्ट

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इस वर्ष गुजरात बोर्ड के विज्ञान वर्ग में लड़कों का प्रदर्शन लड़कियों की अपेक्षा अधिक शानदार रहा. इस बार 12वीं कक्षा के विज्ञान वर्ग में उत्तीर्ण कुल 71.34% विद्यार्थियों में से 71.69% लड़के तथा 70.85% लड़कियाँ उत्तीर्ण हुई हैं.

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here