motivational story in hindi with images

बदलती परिस्थितिया हमे पहले से ओर बेहतर बनाती

एक आईटी कम्पनी में काम करने वाली लड़की जिसका नाम हिमांशी था। एक दिन वह घर लोटी तो बहुत गुस्से में थी।

मा ने उसे समझने की कोशिश की पर वो नही मानी हिमांशी ने जैसे तय कर ही लिया था। की अब वह वँहा काम नही करेगी।

वह मा से बोली, में ऐसी कंपनी में काम नही करूँगी। जंहा रोज इतना कठिनाइयों का सामना करना पड़े।

मेरा बॉस मेरे आफिस में सारा काम मुझे ही करने को बोलता है। मा मुस्कुरा कर बोली बेटाजो तुझे ठीक लगे वही करना।

अगले दिन मा मानसिक रूप से तैयार थी। की हिमांशी नोकरी छोड़कर आ रही होगी।

पर हिमांशी उस दिन हंसते हुए वापस लोटी। म ने पूछा क्या तुमने नोकरी चोड़ दी? हिमांशी बोली नही मा
मा ने पूछा क्यो? तुम तो कह रही थी नोकरी छोड़ दूंगी।

हिमांशी मुस्कुरा कर कहने लगी मा आज मुझे ज्यादा काम करने के लिए वजह मिल गयी। आज में जब ऑफिस पहुंची तो मेने एक सख्श को बस से उतरते हुए देखा।

वह बैसाखिया की मदद से चल रहा है। लेकिन उस इन्शान ने किसी की मदद नही ली।

वह अपने दम पर ऑफिस में घुसा। मेने देखा की उसकी कोहनी ही नही थी।

उसकी रीड की हड्डी भी कुछ अजीब के आकर की थी। कंही बहुत छोड़ी कंही पतली थी।

जब वो शख्स बैसाखियों की मदद से सीढिया चढ़ने लगा तो में हैरान रह गयी। मेने झट से आगे बढ़कर उसे फकड़ना चाहा कंही गिर ना जाए।

लेकिन उसने कहा माफ कीजिये मुझे मदद की जरूरत नही है। में खुद चल सकता हुन।

मेने पूछा आप रोज सीढियो से ऐसे ही चढ़ते हो क्या? उसने बोला जी हाँ मुझे खुद पर गर्व है

की मुझे भगवान ने दुसरो से अलग बनाया है। ओर थोड़ा ताकतवर भी ताकि में ओरो से थोड़ा ज्यादा काम कर सकू।

ओर हिमांशी बोली मा मुझे उस वक्त एहसास हुआ की में वो सारा काम करने में सक्षम हुन।

तभी तो मुझे वो काम दिया गया है। में दुसरो की बराबरी करके या सहूलियत की वजह से यह काम छोड़ दु।

तो में उनका निरादर करूँगी। जिन्होंने मेरे ऊपर विशवास किया।

सिख • रोज बदलती परिस्थितिया हमे पहले से ओर बेहतर बनाती है।


एक बार ये जरूर पढ़ें।


Crazy Point

मेरा नाम hp saran है इस ब्लॉग पे सारी पोस्ट खुद लिखता हूँ अगर आपको भी शायरी पसन्द है तो submit पेज पर जाए और अपनी shayari, messages, quotes, status, भेजे।

0 Comments

Leave a Reply

%d bloggers like this: